Thursday, 14 November, 2019
dabang dunia

देश

रूस कंपनियों ने पंजाब में निवेश करने के प्रति दिखाई रूचि

Posted at: Nov 8 2019 6:22PM
thumb

चंडीगढ़। रूसी कंपनियों को निवेश के लिये आकर्षित करने के लिये पंजाब सरकार ने रूस के पूर्व उप-प्रधानमंत्री और रूसी स्टेट विकास निगम के चेयरमैन ईगोर शुवालोव को राज्य में पांच तथा छह दिसंबर को होने वाले प्रोग्रैसिव निवेश सम्मेलन-2019 में भाग लेने के लिए न्योता दिया है। यह सम्मेलन इंडियन स्कूल आफ बिजनेस मोहाली में कराया जायेगा। सरकारी प्रवक्ता ने आज यहाँ बताया कि  अतिरिक्त मुख्य सचिव विनी महाजन समेत निवेश पंजाब के सी.ई.ओ. रजत अग्रवाल की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने रूसी प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। बीस सदस्यीय रूसी प्रतिनिधिमंडल में इगोर शुवालोव और वी.ई.बी के उप चेयरमैन तसेखोमस्की शामिल हैं। प्रवक्ता के अनुसार रूसी प्रतिनिधिमंडल भारत में स्मार्ट सिटी, बिजली, पानी, स्वास्थ्य सुविधा , कृषि और खाद्य प्रसंसकरण के क्षेत्रों में साझा निवेश के मौके तलाश रहा है। प्रतिनिधिमंडल ने पंजाब सरकार के साथ संबंध कायम करने और साझे निवेश वाले क्षेत्रों की संभावनाएं तलाशने के लिए राज्य का दौरा किया।

प्रवक्ता ने बताया कि स्मार्ट सिटी प्रोजैक्ट के लिए राज्य सरकार की तरफ से पहले ही तीन शहरों - अमृतसर, जालंधर और लुधियाना को चुना गया है जहाँ स्मार्ट और इलैक्ट्रिक मोबिलिटी को स्थापित करना मुख्य लक्ष्य है। प्रतिनिधिमंडल को उद्योग स्थापित करने के क्षेत्र में विभिन्न सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार की ओर से उठाये गये कदमों से अवगत करवाते हुए अग्रवाल ने बताया कि पिछले दो सालों में पंजाब 50,हजार करोड़ रुपए का निवेश जुटाने में सफल रहा है। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को विशेष कर स्मार्ट सिटी में निवेश करने के लाभ से भी अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि पंजाब भारत के सबसे ज्यादा शहरी आबादी वाले राज्यों में से एक है जहाँ नयी शुरुआत करने के लिए विशेष कर कृषि प्रौद्यौगिकी के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। राज्य में स्मार्ट ईलेक्ट्रोनिक्स और वाहनों के उत्पादन को उत्साहित करने के लिए लुधियाना में 380 एकड़ के क्षेत्र में इंडस्ट्रियल पार्क -हाईटेक वैली स्थापित की जा रही है जहाँ इलेक्ट्रिक व्हीकल और बैटरी उत्पादन ईकायां भी स्थापित की जाएंगी।