Tuesday, 09 March, 2021
dabang dunia

उत्तर प्रदेश

रात में हुई शादी और सुबह हर जगह बिछ गई लाशें, लाल जोड़ें में सजी दुल्हन करती रही सबसे सवाल

Posted at: Jan 19 2021 12:04AM
thumb

यह दिल दहला देने वाली घटना उत्तर प्रदेश के कौशांबी की है, जहां बुधवार तड़के सुबह करीबन 3:00 बजे एक सड़क हादसा हो गया। सड़क हादसे में कई लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। इस घटना की खबर सुनते ही पूरे परिवार में मातम पसर गया। जहां कुछ घंटों पहले शहनाई की आवाज गूंज रही थी, वहां सन्नाटा और लाशों की खबरें गूंजने लगी। हर शख्स एक दूसरे से यही पूछ रहा था कि आखिर हुआ क्या? ना किसी को हादसे का कारण पता था और ना ही किसी को यह जानकारी थी कि हादसे में किस की क्या हालत है?

कौशांबी के देवीगंज बाजार स्थित गेस्ट हाउस में उस समय अफरा-तफरी मच गई जब एक सड़क हादसे की खबर आई। रात 3:00 बजे एक फोन कॉल आया और उसमें खबर आई की बारात से वापस जा रहे लोगों का एक्सीडेंट हो गया है। सभी लोग घटनास्थल पर पहुंचने के लिए इधर-उधर भागने लगे। तो वही कुछ घंटों पहले दुल्हन बनी विमला को परिवार में मची अफरा-तफरी का कोई कारण समझ में नहीं आ रहा था। वह सब से यही पूछ रही थी कि आखिर हुआ क्या है?

दुल्हन के लिबास में बैठी विमला ने देखा कि जो बारात उसे लेने आई थी वह अचानक गाड़ियों पर सवार होकर वापस जा रही थी। ऐसे में सब अंदाजा लगाने लगे कि शायद बाराती रूठ गए हैं, लेकिन तभी वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने बताया कि हादसे में विमला की ननंद समेत आठ लोगों की मौत हो गई है। इस खबर को सुनते ही शादी की शहनाई की आवाजों से गूंज रहे घर में मातम पसर गया।

फतेहपुर जिले के सुल्तानपुर घोष कोतवाली अंतर्गत मवई गांव स्थित कारोबारी मानिकचंद बेटी की शादी मंगलवार को शहजाद पुर गांव के पंकज अग्रहरि से तय हुई थी। तय समय के अनुसार धूमधाम से बारात दरवाजे पहुंची। बाराती नाचते गाते हुए गेस्ट हाउस में पहुंचे और घरातियों ने मिलकर उनका स्वागत किया। इसके बाद सभी रस्में धीरे-धीरे होने लगी।

शादी की सभी रस्में चलती रही इसी बीच शादी समारोह में मौजूद कुछ बारातियों ने घर वापस जाने का फैसला किया। इसमें विमला की ननंद भी शामिल थी। सभी लोग मिलकर गेस्ट हाउस से घर जाने लगे। इसी में अचानक से एक्सीडेंट हो गया, जिसमें विमला की ननद सहित उसके भांजे और 8 लोगों की मौत हो गई। हालांकि हादसे के कारणों का अब तक खुलासा नहीं हुआ है। वही परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है।