Thursday, 20 September, 2018
dabang dunia

प्रदेश

आम के बागों में खिले बौर पर न करें दवा का छिड़काव : उद्यान विभाग

Posted at: Mar 13 2018 4:07PM
thumb

लखनऊ। उद्यान विभाग ने आम उत्पादकों को सलाह दी कि आम की अगेती फसल के बौर खिले हुए हैं और ऐसे में उसपर दवा का छिड़काव न करें। उद्यान विभाग ने किसानों को सलाह दी है कि आम के बौर के समय विशेष सावधानियां बरतने की जरुरत है। आम के बौर पर किसी तरह की दवा का छिड़काव नहीं करें।  मध्यम और देर से पकने वाली प्रजातियों में भी बौर निकल आयें है लेकिन अभी  खिले नहीं हैं, इन पर पाउडरी मिल्ड्यू तथा भुनगा कीट लगने की संभावना रहती है, जिसके नियंत्रण के लिए सलाह दी जाती है।

किसानों को सलाह दी गई जिन पेड़ों पर बौर खिला नहीं हैं उनपर घुलनशील गंधक दो ग्राम प्रति लीटर पानी तथा साथ में कीटनाशक क्यूनालफास या क्लोरोपाइरीफास या डायमेथोएट दो मिली प्रति लीटर पानी या कार्बरिल चार ग्राम प्रति ली0 पाली या इमिडाक्लोरप्रिड-3.5 मिली प्रति 10 ली0 पानी की दर से प्रथम बार छिड़काव करें। द्वितीय छिड़काव की सलाह फल सेट हो जाने तथा फल सरसों के दाने के बराबर हो जाने के स्थिति में कैलिक्सीन /कैराथेन एक मिली0 प्रति लीटर पानी के साथ प्रथम बार छिड़काव के लिए सुझाए गए दवा में से किसी एक दवा के साथ छिड़काव करें।