Friday, 17 August, 2018
dabang dunia

खेल

आखिरी ओलंपिक में छाप छोड़ने उतरेंगे ल्यूज एथलीट..

Posted at: Feb 8 2018 7:18PM
thumb

प्योंगयोंग। ल्यूज एथलीट शिवा केशवन तथा क्रॉस कंट्री स्कायर जगदीश सिंह शुक्रवार से दक्षिण कोरिया में शुरू होने जा रहे प्योंगयोंग शीतकालीन ओलंपिक खेलों में भारत की ओर से दावेदारी पेश करेंगे। 36 साल के केशवन छठी बार शीतकालीन ओलंपिक खेलों में हिस्सा ले रहे हैं जो उनके करियर के आखिरी ओलंपिक खेल भी हैं जहां उनका लक्ष्य इस बार धमाकेदार विदाई के साथ इन खेलों को यादगार बनाना है। उन्होंने जापान के नागानो में 1998 में हुए खेलों से पदार्पण किया था।
 
वह इससे पहले वर्ष 1998, 2002, 2006, 2010 और 2014 ओलंपिक खेलों में भाग ले चुके हैं। दूसरी ओर जगदीश के लिये 09 से 25 फरवरी तक चलने वाले प्योंगयोंग ओलंपिक उनके करियर का पहला ओलंपिक होगा। ल्यूगर केशवन के अलावा एल्पाइन स्कायर नेहा आहुजा और हीरा लाल तथा बहादुर गुप्ता(क्रॉस कंट्री स्की) भी भारतीय टीम का हिस्सा होंगे। ये 2006 इटली ओलंपिक में भी हिस्सा ले चुके हैं। 24 साल के शिवा ने खेलों से पूर्व कहा था," संभवत: यह मेरा आखिरी ओलंपिक होगा।
 
मेरे लिए क्वालिफिकेशन ज्यादा मायने नहीं रखता। लेकिन करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना एक बहुत बडी़ चुनौती है।" युवा ओलंपियन शिवा अब तक चार स्वर्ण, चार रजत और दो कांस्य पदक अपने नाम कर चुके हैं। शिवा की मां इटली की हैं और पिता केरल निवासी ,जो मनाली में रेस्तरां चलाते हैं। शिवा को अपनी मां के देश इटली से खेलने के कई प्रस्ताव मिले, पर उन्होंने हर बार भारत को ही अपनी प्राथमिकता दी है। शिवा को 2012 में अर्जुन पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है। खेल मंत्रालय ने पिछले महीने ही टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम के तहत अभ्यास के लिए शिवा को 20 लाख रूपए की राशि की घोषणा की थी।