Tuesday, 19 June, 2018
dabang dunia

अन्‍य

कांस्टेबल की परीक्षा में पास होने की कीमत ढाई से पांच लाख रुपये!

Posted at: Mar 12 2018 4:13PM
thumb

जयपुर। राजस्थान स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में चल रही गड़बड़ी का भंड़ाफोड़ करते हुए नकल माफिया गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक करण शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार किये गये सभी युवक हरियाणा और दिल्ली के हैं जो मोटी रकम लेकर युवकों को नकल करवाने का काम करते थे। प्रांरभिक जांच में खुलासा हुआ कि गिरोह के सदस्य ढाई लाख से पांच लाख रूपये की राशि लेकर नकल को अंजाम देते थे।
राजस्थान में पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए पहली बार कंप्यूटर के जरिए ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गई थी। इसके लिए झालानी औधोगिक क्षेत्र में स्थित सरस्वती इंफोटेक्स नामक एक कंपनी को ठेका दिया गया था।  इस कंपनी के संचालक परीक्षार्थियों से मिलकर नकल करा रहा था।
पुलिस ने बताया कि संस्थान में छापा मारा गया तो वहां कई तरह की गड़बड़ियां पायी गईं। इनमें परीक्षार्थियों के लिये अलग से लाईन खड़ी की गयी थी जो कि नहीं होनी चाहिये। संचालकों ने केन्द्र के पास ही फ्लैट और कमरा किराये पर ले रखा  था। कंपनी ने परीक्षा स्थल पर तीन सौ कम्प्यूटर लगा रखे थे ओर इनको किराये के फ्लैट और कमरे से जोड़ रखा था। यहां से परीक्षार्थियों के कंप्यूटर को रिमोट मोड में लेकर नकल को अंजाम दिया जा रहा था। 
उन्होंने बताया कि 7 मार्च से शुरु हुई कांस्टेबल की परीक्षा 45 दिनों तक चलनी थी।  इसके लिए राजस्थान में जयपुर, जोधपुर, अजमेर, अलवर, बीकानेर, झुंझुनूं, कोटा, सीकर, श्रीगंगानगर और उदयपुर में कई इंस्टीट्यूट्स में परीक्षा सेंटर बनाए गए थे।  जिनमें तीन पारियों में अभ्यर्थियों की ऑलाइन परीक्षा ली जानी थी।