Wednesday, 18 September, 2019
dabang dunia

बिज़नेस

म्युचुअल फंडों में बढ़ी खुदरा निवेशकों की दिलचस्पी

Posted at: Sep 10 2019 1:27AM
thumb

नई दिल्ली। शेयर बाजार में चल रही उठा-पटक के बीच निवेशकों की दिलचस्पी म्युचुअल फंडों में बढ़ी है। जुलाई की तुलना में अगस्त में म्युचुअल फंडों की प्रबंधनाधीन परिसंपत्ति (एयूएम) में 4 फीसद की बढ़ोतरी हुई और यह 25.47 लाख करोड़ रुपए हो गई।  एसोसिएशन ऑफ म्युचुअल फंड्स इन इंडिया के अनुसार, जुलाई के अंत में 44 कंपनियों वाले म्युचुअल फंड उद्योग की प्रबंधनाधीन परिसंपत्ति 24.53 लाख करोड़ रुपए थी। जहां जुलाई में 87000 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था, जबकि अगस्त में कुल मिलाकर 1.02 लाख करोड़ रुपए का निवेश म्युचुअल फंडों में हुआ। इनमें से 79000 करोड़ का निवेश अगस्त में लिक्विड फंडों में किया गया। फंड मैनेजर्स के अनुसारए खुदरा निवेशकों की प्रतिभागिता के कारण इक्विटी और लिक्विड फंडों में निवेश का प्रवाह बढ़ा है। ओपन एंडेड इक्विटी योजनाओं में अगस्त के दौरान 9152 करोड़ रुपए का निवेश किया है हालांकि, क्लोज्ड एंडेड इक्विटी योजनाओं से 62 करोड़ रुपए की निकासी की गई। इस प्रकार इक्विटी में कुल निवेश अगस्त में 9090 करोड़ रुपए रहा। जुलाई में इन योजनाओं में 8092 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश किया गया था। डेट योजनाओं की बात करें तो लिक्विड फंडों में अगस्त के दौरान 79428 करोड़ रुपए का निवेश किया गया, जबकि जुलाई के दौरान इनमें 45441 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था। इसके अलावा, गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंडों में 145 करोड़ रुपए का निवेश किया गया जो जुलाई में 17.66 करोड़ रुपए था। एएमएफआई के सीईओ एनएस वेंकटेश ने कहा खुदरा निवेशकों की दिलचस्पी इक्विटी म्युचुअल फंडों में लगातार बनी हुई ह, भले ही बाजार और अर्थव्यवस्था के हालात अनिश्चित रहे हैं।