Sunday, 28 November, 2021
dabang dunia

खेल

पाक खेमे में KL राहुल और पंत का खौफ, बाबर आजम पर दबाव

Posted at: Oct 21 2021 5:50PM
thumb

नई दिल्‍ली। इंडिया और पाक की जंग जैसे-जैसे पास आ रही है दोनों ही टीमों पर एक अलग सा दबाव बनता जा रहा है। T20 World Cup में पाकिस्तान के बल्लेबाजी कोच मैथ्यू हेडन ने इस बात को माना है। हेडन के मुताबिक पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम पर दबाव है और उनकी नजरें केएल राहुल और ऋषभ पंत पर हैं। मैथ्यू हेडन ने कहा है कि रविवार को दुबई में भारत और पाकिस्तान के बीच बहुप्रतीक्षित टी20 विश्व कप मुकाबले के दौरान नेतृत्वक्षमता की भूमिका अहम होगी। पाकिस्तान की टीम के साथ बल्लेबाजी सलाहकार के रूप में काम कर रहे हेडन ने कहा कि इस बड़े मुकाबले में गलती की गुंजाइश काफी कम होगी इसलिए मैच के नतीजे में नेतृत्वक्षमता की भूमिका अहम होगी। हेडन ने महेंद्र सिंह धोनी और ऑयन मॉर्गन का उदाहरण दिया जिन्होंने सफलता के साथ अपनी अपनी इंडियन प्रीमियर लीग फ्रेंचाइजी की अगुआई की जबकि उनका व्यक्तिगत प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं था।

हेडन ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘हेडन और मॉर्गन का व्यक्तिगत प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं था जितना उनके पिछले आंकड़े बताते हैं लेकिन जिस तरह उन्होंने अपने खिलाड़ियों की अगुआई की और खुद को ढाला उसने यूएई के हालात में उनकी टीमों को आईपीएल फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि आगामी मैचों में नेतृत्वक्षमता महत्वपूर्ण होगी क्योंकि यूएई के हालात में गलती की गुंजाइश काफी कम होगी और वहां हालात आसान नहीं होंगे।’ हेडन ने कहा कि पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को कप्तान और ओपनिंग बल्लेबाज के तौर पर इस मैच में भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा, ‘कप्तान और बल्लेबाज के रूप में उस पर अतिरिक्त दबाव होगा क्योंकि उसे निशाना बनाया जाएगा और सभी उस पर हावी होने का प्रयास करेंगे। बाबर को बल्लेबाज और कप्तान की अपनी भूमिका निभानी होगी।’पिछले कुछ सालों से भारतीय क्रिकेट पर करीबी नजर रखने वाले हेडन का मानना है कि पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ा खतरा लोकेश राहुल और ऋषभ पंत होंगे। उन्होंने कहा, ‘मैंने लोकेश राहुल को प्रगति करते हुए देखा है और वह पाकिस्तान के लिए बड़ा खतरा होगा। मैंने राहुल को शुरू के दिनों से देखा है। मैंने उनका संघर्ष और छोटे फॉर्मेट में उनका दबदबा देखा है।’ हेडन ने कहा, ‘मैंने ऋषभ पंत को भी देखा है, वह कैसे गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त करते हैं।’