Sunday, 22 May, 2022
dabang dunia

प्रदेश

महिला आयोग ने की दुष्कर्म मामले में आरोपियों की गिरफ़्तारी की माँग

Posted at: Jan 27 2022 3:31PM
thumb

नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग ने राजधानी के विवेक विहार में एक महिला के अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म में शामिल सभी लोगों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए गुरुवार को पुलिस को नोटिस जारी किया। महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पीड़िता से मिलने पर कहा, “अपराधियों ने लड़की के साथ क्रूरतापूर्वक सामूहिक दुष्कर्म और अत्याचार किया जिसके कारण उसके पूरे शरीर पर भयानक घाव और चोटों के निशान हैं। दुष्कर्म के लिए उकसाने वाली महिलाओं सहित सभी दोषियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए और पीड़िता तथा उसके परिवार को जल्द से जल्द पुलिस द्वारा सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए। दिल्ली पुलिस को राजधानी में चल रहे अवैध शराब और नशीले पदार्थों की बिक्री के गोरख धंधे के ऊपर नकेल कसने के लिए तत्काल कदम उठाने चाहिए क्योंकि इन कृत्यों में शामिल सभी अपराधियों का हौसला दिन पर दिन बढ़ रहा है और उन्हें सबक सिखाना पूरे समाज की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण है।”

सुश्री मालीवाल ने आज दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर दिल्ली के विवेक विहार में 20 वर्षीय एक महिला के अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म और अपमान में शामिल सभी लोगों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। उन्होंने पीड़िता से मुलाकात की जिसने बताया कि कुछ लोगों ने उसका अपहरण कर उसको बंधक बना लिया और फिर तीन लोगों ने मिलकर उसके साथ समूहिक दुष्कर्म किया। पीड़िता ने यह भी बताया कि जब वो लोग उसका यौन शौषण कर रहे थे तब वहां कुछ महिलाएं भी मौजूद थी जो उन पुरुषों को उसके साथ और बुरा व्यवहार एवं दुष्कर्म करने के लिए उकसा रही थी। जब पीड़िता से दोषियों के बारे में और जानकारी मांगी गई तो उसने अपनी जान का खतरा व्यक्त करते हुए बताया कि ये सब लोग शराब और नशीली दवाओं के अवैध व्यापार में शामिल हैं। पीड़िता ने आगे बताया कि अपराधियों ने उसे बेरहमी से पीटा, उसका सिर मुंडवा कर चेहरा काला कर दिया और उसे चप्पल और जूतों की माला के साथ इलाक़े में घुमाया। आयोग को इस बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना का एक वीडियो भी बरामद हुआ जिसमें पीड़िता की दुर्दशा स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है।
 
महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर मामले में शामिल सभी दोषी पुरुषों तथा महिलाओं की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। पीड़ित लड़की एवं उसके परिवार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मालीवाल ने अपने नोटिस में लड़की और उसके परिवार को जल्द से जल्द एक सुरक्षित घर में स्थानांतरित करने तथा उन्हें तुरंत सुरक्षा प्रदान करने की सफरिश भी पेश करी है। आयोग ने आरोपी व्यक्तियों की अवैध शराब और नशीली दवाओं के व्यापार में संलिप्तता को देखते हुए उनके खिलाफ इस संबंध में आई पिछली सभी शिकायत का विवरण भी मांगा है। इसके अलावा आयोग ने दिल्ली पुलिस द्वारा लड़की की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उठाए जा रहे कदमों को भी प्रस्तुत करने के लिए कहा है। अंततः आयोग ने दिल्ली पुलिस को 72 घंटों के भीतर मामले की सीसीटीवी फुटेज समेत मामले में की गई कार्रवाई की विस्तार रिपोर्ट आयोग को प्रदान करने को कहा है।