Saturday, 20 April, 2024
dabang dunia

देश

फिल्म अभिनेता गोविंदा शिवसेना (शिंदे गुट ) में हुए शामिल, नॉर्थ-वेस्ट सीट से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

Posted at: Mar 28 2024 9:09PM
thumb

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गोविंदा ( Bollywood actor Govinda  ) आज यानी गुरुवार को शिवसेना (शिंदे गुट) में शामिल हो गए हैं। गोविंदा ने शिवसेना में शामिल होने से पहले मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ( Maharashtra CM Eknath Shinde ) से मुलाकात की, जिसके बाद उन्होंने पार्टी की औपचारिक सदस्यता ले ली। माना जा रहा है कि गोविंदा को उत्तर-पश्चिमी मुंबई सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। शिवसेना की सदस्यता लेने के बाद गोविंदा ने कहा कि उनको जो जिम्मेदारी मिली है, उसको वो पूरी ईमानदारी के साथ निभाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गोविंदा उत्तर-पश्चिमी सीट से पहले भी चुनाव लड़ चुके हैं। उन्होंने 2004 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर बीजेपी के उम्मीदवार राम नाईक को हराया था। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गोविंदा ने 2004 में सक्रिय राजनीति में डेब्यू किया था। उस समय वह कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़कर लोकसभा पहुंचे थे। तब उन्होंने नॉर्थ मुंबई सीट से चुनाव लड़कर बीजेपी के दिग्गज उम्मीदवार राम नाईक को हराया था। इसके बाद राम नाइक ने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल भी बने। हालांकि गोविंदा ने फिर कोई चुनाव नहीं लड़ा और निजी कारणों का हवाला देते हुए राजनीति से सन्यास ले लिया था। अब उन्होंने महाराष्ट्र के सत्ताधारी दल शिवसेना (शिंदे गुट) का दामन थाम लिया है। चर्चा है कि वह शिवसेना के टिकट पर नॉर्थ-वेस्ट मुंबई सीट से चुनाव लड़ेंगे। इस सीट से फिलहाल शिवसेना के गजानन कीर्तिकर सांसद हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गोविंदा के शिवसेना जॉइनिंग में दो सुपरस्टार बहनें करिश्मा कपूर और करीना कपूर भी पहुंची थीं। हालांकि दोनों कपूर बहनें पार्टी में शामिल नहीं हो रही हैं, लेकिन उनका स्टार प्रचारक बनाया जा सकता है। माना जा रहा है कि करिश्मा और करीना गोविंदा के लिए स्टार प्रचारक की भूमिका निभा सकती हैं। शिवसेना में शामिल होने पर दिग्गज बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा ने कहा कि मैं देखना चाहता हूं कि सौंदर्यकरण, विकास, शहर और खास तौर पर कला और संस्कृति के लिए हम क्या कर सकते हैं.

दिग्गज बॉलीवुड अभिनेता गोविंदा के शिवसेना में शामिल होने पर राज्यसभा सांसद मिलिंद देवड़ा ने कहा कि मैं गोविंदा को लगभग 25 साल से जानता हूं। 2004 में हम दोनों ने साथ में चुनाव लड़ा था। मेरे दिवंगत पिता उन्हें कांग्रेस में लेकर आए थे..। वह एक साफ दिल वाले व्यक्ति हैं और वह रचनात्मक उद्योग और देश की सांस्कृतिक राजधानी मुंबई का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं।