Friday, 24 May, 2024
dabang dunia

ज़रा हटके

वित्तीय विवाद को लेकर1 करोड़ की लेम्बोर्गिनी कार को बीच सड़क पर पेट्रोल छिड़कर लगा दी आग

Posted at: Apr 16 2024 4:06PM
thumb

दुनियाभर में ऐसे कई लोग हैं, जो महंगी और लग्जरी स्पोर्ट्स कार रखने और चलाने का शौक रखते हैं। पानी की तरह पैसे बहाकर खरीदी गई इन गाड़ियों को कुछ लोग जान से भी ज्यादा संभालकर रखते हैं, लेकिन क्या हो जब करोड़ों की लेम्बोर्गिनी कार दुश्मनी की भेंट चढ़ जाए। हाल ही में एक शख्स ने लग्जरी स्पोर्ट्स कार लेम्बोर्गिनी को एक ही झटके में आग के हवाले कर दिया। इसके पीछे वजह जानकर आप भी अपना माथा पकड़ लेंगे।

दरअसल, तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक लेम्बोर्गिनी कार को आग के हवाले कर दिया गया, जिसका वीडियो और फोटोज इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। वीडियो और तस्वीरों में कार को धू-धू कर जलते हुए देखा जा सकता है। बताया जा रहा है कि आग लगाने वाले आरोपी के कुछ पैसे कार मालिक पर बकाए थे। बताया जा रहा है कि, पुरानी कारों की खरीद-बिक्री का काम करने वाले एक व्यक्ति और कुछ अन्य लोगों ने कथित तौर पर एक पुरानी, लेकिन महंगी लग्जरी स्पोर्ट्स कार को उसके मालिक के साथ विवाद के चलते सड़क पर आग के हवाले कर दिया, पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी है। 

पुलिस ने अनुसार, 2009 मॉडल कार (लेम्बोर्गिनी) का मालिक वाहन को बेचना चाहता था, जिसकी कीमत एक करोड़ रुपये तक आंकी गई थी और उसने अपने कुछ दोस्तों को खरीदार की तलाश करने के बारे में बताया था। बताया जा रहा है कि, कार को जलाने वाला मुख्य आरोपी पुरानी कारों की खरीद-बिक्री का काम करता है। 13 तारीख को आरोपी ने कार मालिक के एक दोस्त को फोन कर कार लाने के लिए कहा, क्योंकि कार मालिक का वह दोस्त आरोपी का परिचित था। जानकारी के मुताबिक, ये घटना हैदराबाद के पहाड़ी शरीफ इलाके की है। कार को इलाके के एयरपोर्ट रोड पर जलाया गया। 

ये घटना 13 अप्रैल की शाम हैदराबाद के बाहरी इलाके में 'ममीदिपल्ली रोड' की है। वायरल तस्वीरों और वीडियो में देखा जा सकता है कि, पीले रंग की लेम्बोर्गिनी कार आग की लपटों से घिरी नजर आ रही है। कार का 80 प्रतिशत तक हिस्सा जला हुआ दिख रहा है। पुलिस ने कहा कि जब 13 अप्रैल की शाम को कार को शहर के बाहरी इलाके ममिदिपल्ली रोड पर लाया गया, तो उसने कुछ अन्य लोगों के साथ मिलकर इसे पेट्रोल का उपयोग करके जला दिया, यह दावा करते हुए कि कार मालिक पर उसका पैसा बकाया है। कार लेने वाले व्यक्ति की शिकायत के आधार पर, आईपीसी की धारा 435 (नुकसान पहुंचाने के इरादे से आग या विस्फोटक पदार्थ द्वारा शरारत) के तहत मामला दर्ज किया गया था।