Saturday, 25 September, 2021
dabang dunia

देश

पैनासोनिक इंडिया ने रतिछत्र छात्रवृत्ति के लिए 30 छात्रों को चुना

Posted at: Dec 21 2020 7:39PM
thumb

नई दिल्ली। पैनासोनिक इंडिया के एक विविध प्रौद्योगिकी कंपनी ने देश भर की 23 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के 30 छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए अपनी छात्रवृत्ति कार्यक्रम ‘रतिछत्र’ के चुना है। छात्रवृत्ति कार्यक्रम का उद्देश्य देश के दूसरे सबसे बड़े जॉब सर्च प्लेटफॉर्म शाइनडॉटकॉम (एचटी) के सहयोग से चुने गए स्रातक छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है, जिससे वे अपने संबंधित आईआईटी में उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकें।
 
इस सम्मान समारोह में नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत मुख्य अतिथि के रूप में हैं। इसके अलावा पैनासोनिक इंडिया के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनीष शर्मा और दक्षिण एशिया, प्रोफेसर संजीव सांघी, एप्लाइड मैकेनिक्स विभाग, आईआईटी दिल्ली के प्रमुख और सुरितु घोष, पैनासोनिक इंडिया कॉर्पोरेट मामलों और सीएसआर की प्रमुख शामिल थे।   
 
  अमिताभ कांत ने विजेताओं को बधाई देते हुए कहा, ‘‘मैं इन मेधावी छात्रों को बधाई देना चाहूंगा, जिनकी लगातार कड़ी मेहनत ने उन्हें आज यहां तक पहुंचाया है। पैनासोनिक इंडिया के निरंतर प्रयास युवाओं के सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए उनके ‘रतिछत्र’ छात्रवृत्ति कार्यक्रम वास्तव में सराहनीय हैं। पैनासोनिक इंडिया और साउथ एशिया के अध्यक्ष और सीईओ मनीष शर्मा ने कहा, ‘‘आज का युवा परिवर्तन की प्रेरणा शक्ति है, जो बेहतर कल को आकार देने की क्षमता रखता है और यह मुझे गर्व से भर देता है कि रतिछत्र छात्रवृत्ति कार्यक्रम के माध्यम से हम युवा प्रतिभाओं को ऐसे नेतृत्व कर्ता बनाये जो अपनी पसंद के क्षेत्र में कौशल विकास कर सकें।
 
हम विजेताओं को बधाई देते हैं और आशा करते हैं कि हमारी कोशिश उन्हें अपनी महत्वाकांक्षाओं को साकार करने के लिए प्रेरित करती रहेगी।’’ पैनासोनिक इंडिया कॉर्पोरेट मामलों और सीएसआर के प्रमुख रितुघोष ने कहा कि हमारी रतिछत्र छात्रवृत्ति सभी को बेहतर ज़िन्दगी प्रदान करने तथा एक बेहतर और सम्पूर्ण दुनिया के निर्माण के पैनासोनिक के उद्देश्य के अनुरूप है,  जो देश का सामाजिक व आर्थिक विकास करने में सहयोग देगी।’’ 
 
उन्होंने कहा कि वर्ष 2020 रतिछत्र छात्रवृत्ति कार्यक्रम में 550 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 409 आवेदनों को शॉर्टलिस्ट किया गया। एक ऑनलाइन परीक्षण के आधार पर 168 छात्रों का साक्षात्कार लिया गया, जिसमें से पैनासोनिक इंडिया ने इस सम्मान के लिए  30 विजेताओं को चुना है। जो इस प्रकार हैं।
 
दृष्टिखेर आईआईटी-भुवनेश्वर, उत्कर्षसाहू    आईआईटी-भुवनेश्वर, हिमांशु यादव आईआईटी- भुवनेश्वर, अर्पित उपाध्याय आईआईटी-मुंबई, हरीश कुमार आईआईटी - कानपुर, सुकीर्ति शुक्ला आईआईटी - मद्रास, श्रेया शुक्ला आईआईटी - मद्रास, यशरमानी आईआईटी-दिल्ली, सुकन्यामोरे आईआईटी-गांधीनगर, प्रियागुप्ता आईआईटी-गांधीनगर, नितीश कुमार आईआईटी-गुवाहाटी, ंिपकी सिंह    आईआईटी-गुवाहाटी, दीपक प्रसाद आईआईटी-गुवाहाटी, लोकेश सुराणा आईआईटी-हैदराबाद, पार्थभोरे आईआईटी-इंदौर, नीरज सिंह आईआईटी-जम्मू, आज़ाद कुमार आईआईटी-खड़गपुर, प्रिया नंदी आईआईटीझ्रखड़गपुर, धर्मा गुर्रम   आईआईटी- मंडी, मोनिका मीणा आईआईटीझ्रमंडी, विजय रावत आईआईटीझ्ररुड़की, दोहुराजा आईआईटीझ्ररुड़की, उत्कर्षराज आईआईटी-रुड़की, सार्थकवत्स आईआईटीझ्ररोपड़, आयुष श्रीवास्तव आईआईटीझ्रधारवाड़, अमोघ जोशी    आईआईटीझ्रभिलाई, आलोक कुमार सेठी आईआईटीझ्रभुवनेशवर, बृजेश कुमार आईआईटी-धनबाद, अभिरामजल्ली    आईआईटी-गोवा और शुभमराज आईआईटी - पटना शामिल हैं।
 
प्रियंका ने वोरा के निधन पर जताया शोक नई दिल्ली 21 दिसंबर (वार्ता) कांग्रेस की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने पार्टी के वरिष्ठ नेता मोती लाल वोरा के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। वाड्रा ने एक ट्वीट में कहा कि परिवार के एक बुजुर्ग सदस्य चले गए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ मोतीलाल वोरा जी के निधन से कांग्रेस पार्टी के हर एक नेता, हर एक कार्यकर्ता को व्यक्तिगत तौर पर दु:ख महसूस हो रहा है। वोरा जी कांग्रेस की विचारधारा के प्रति निष्ठा, समर्पण और धैर्य के प्रतीक थे। 92 साल की उम्र में भी हर मींिटग में उनकी मौजूदगी रही, हर निर्णय पर उन्होंने अपने विचार खुलकर प्रकट किए। आज दु:ख भरे दिल से उन्हें अलविदा कहते हुए यह महसूस हो रहा है कि परिवार के एक बड़े बुजुर्ग सदस्य चले गए हैं। हम सब उन्हें बहुत याद करेंगे।’’