Thursday, 27 January, 2022
dabang dunia

प्रदेश

एक करोड़ से अधिक लोगों ने किया सूर्य नमस्कार

Posted at: Jan 14 2022 7:24PM
thumb

नई दिल्ली। मकर संक्रांति के पावन पर्व पर शुक्रवार को दुनिया भर में एक करोड़ से अधिक लोगों ने एक साथ सूर्य नमस्कार किया। केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और आयुष राज्य मंत्री डॉ मुंजापारा महेंद्रभाई ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण, रविशंकर, सद्गुरु जग्गी वासुदेव और दुनिया के विभिन्न हिस्सों से कई उल्लेखनीय हस्तियां उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुईं। सोनोवाल ने कहा कि लोगों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए सूर्य नमस्कार के माध्यम से सूर्य पूजा की जाती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और मार्गदर्शन में मानव कल्याण और स्वास्थ्य के लिए योग और सूर्य नमस्कार को बढ़ावा दिया जा रहा है। डॉ मुंजापारा ने कहा कि सूर्य नमस्कार पर विभिन्न शोधों से पता चला है कि सूर्य नमस्कार हमारी प्रतिरोधक क्षमता का निर्माण करता है और शरीर को फिट रखता है। आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने कहा कि सूर्य नमस्कार जीवन शक्ति के लिए है और आयुष मंत्रालय ने सौर ऊर्जा की उपचार शक्ति को बढ़ावा देने के लिए इस कार्यक्रम की कल्पना की है।
 
इस वर्चुअल कार्यक्रम में, दुनिया भर के कई प्रमुख योग गुरु और व्यक्ति शामिल हुए, सूर्य नमस्कार का प्रदर्शन किया और सूर्य नमस्कार पर अपने विचार साझा किए। योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि सूर्य नमस्कार आंदोलन का उद्देश्य लोगों को जीवन शक्ति के आधार से अवगत कराना है। योग का अर्थ है कि लोगों को एकजुट करना और हम सूर्य नमस्कार करने वाले 75 लाख से अधिक लोगों को एक साथ जोड़कर ऐसा ही कर रहे हैं। आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक  रविशंकर ने कहा कि सूर्य की ऊर्जा हमारे भीतर प्रतिरोधक क्षमता को जगाती है, जो हमें इस वैश्विक महामारी से बचा सकती है। ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने कहा कि दुनिया में सब कुछ सूर्य की ऊर्जा से संचालित होता है। प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करने से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है।
 
वर्ष 2021 मिस वर्ल्ड जापान तमाकी होशी भी इसमें वर्चुअली शामिल हुईं। उन्होंने कहा कि भारत की यह पहल इस महामारी के समय में हर लोगों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो रही है। जापान में भी बड़ी संख्या में लोग सूर्य नमस्कार कर रहे हैं और कई लोगों ने योग को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिया है। इटली योग संस्थान के अध्यक्ष डॉ एंटोनियेट रॉसी ने लोगों से सूर्य नमस्कार कर स्वस्थ रहने की अपील की। अमेरिकन योग अकादमी के अध्यक्ष डॉ इंद्रनील बसु रॉय, सिंगापुर योग संस्थान के सदस्य सहित कई अन्य लोग भी वस्तुतः कार्यक्रम में शामिल हुए और कोविड नियमों का पालन करते हुए सूर्य नमस्कार किया। इस कार्यक्रम में युवा मामले और खेल मंत्रालय, शिक्षा मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय सहित एनसीसी, एनएसएस स्वयंसेवकों और सेना कर्मियों ने भी भाग लिया।